나는 유튜버다 나는 광고주다
나는 유튜버다 나는 광고주다

भक्ति 유튜브 채널 분석 보고서

भक्ति 유튜브 통계 & 분석 대시보드 (업데이트 날짜 2019-12-06)
भक्ति
YouTube 가입일: 2011-10-12국가: 인도  언어: 카시 어 
635만 
조회수
12.78억  0.1%
평균 조회수
5.85만  -8.3%
동영상
4999 
채널 태그
세계 랭킹
1,106th  (Top 1%)
국가 랭킹
115th  (Top 1%)
Nox평점
  2.96 
동영상
68  (최근 1개월)
유튜브 수익 예측(월평균)
₩ 572.78만-₩ 1527.49만
제휴 수익 예측
₩ 15.98만  (동영상 1개당)
भक्ति 데이터 비교 
7일
30일
조회수
구독자
최근 7일 구독자수: 지난 7일 구독자수:
भक्ति 구독자 히스토리 데이터 (최근 1년)
일별 데이터
누적 데이터
안내: 최신 YouTube 공개 구독자 수 표시 방식에 따라 앞 3자리만 표시되기 때문에 구독자 수 그래프 변화가 있습니다
भक्ति 조회수 히스토리 데이터 (최근 1년)
일별 데이터
누적 데이터
भक्ति 미래 성장 추이 (내년)
구독자의 예상 연령 및 성별 분포 
구독자의 예상 지역 분포 
최근 30개 동영상의 구독자 참여율
  • 조회수/구독자
    0.92%
  • 좋아요/조회수
    0.67%
  • 댓글/조회수
    0.07%
  • 싫어요/조회수
    0.10%
최신 30 개 동영상의 동영상 뷰 그래프
평균 조회수5.86만
채널에서 가장 많이 본 동영상 भक्ति 유튜브 채널
307.25만 조회수· 2019-10-03 · 1.45만 좋아요· 1448 댓글

To get more of Bhajans / Aartis / Chalisa subscribe to our channel by clicking here -- http://goo.gl/1ZrqPa Ambay Tu Hai Jagdambe Kali Om Jayanti Mangla Kali Singer: Anjali Jain Label: Bhakti Classic Digital Distribution & Promotion By: Ziiki Media नवरात्रि में इस दिन करें मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की उपासना- 29 सितंबर, प्रतिपदा - नवरात्रि के पहले दिन घट या कलश स्थापना की जाती है। इस दिन मां के शैलपुत्री स्वरुप की पूजा की जाती है। 30 सितंबर, द्वितीया - नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा का विधान है। 1 अक्टूबर, तृतीया - नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है। 2 अक्टूबर, चतुर्थी - नवरात्रि के चौथे दिन मां के कुष्मांडा स्वरुप की पूजा की जाती है। 3 अक्टूबर, पंचमी - नवरात्रि के 5वें दिन मां स्कंदमाता की पूजा करने का विधान है। 4 अक्टूबर, षष्ठी - नवरात्रि के छठें दिन मां कात्यायनी की पूजा होती है। 5 अक्टूबर, सप्तमी - नवरात्रि के सातवें दिन कालरात्रि की पूजा होती है। 6 अक्टूबर, अष्टमी - नवरात्रि के आठवें दिन माता के भक्त महागौरी की अराधना करते हैं। 7 अक्टूबर, नवमी - नवरात्रि का नौवें दिन नवमी हवन करके नवरात्रि पारण किया जाता है। 8 अक्टूबर, दशमी - दुर्गा विसर्जन, विजयादशमी नवरात्रि पर्व मनाने के पीछे बहुत-सी रोचक कथाएं प्रचलित हैं। आपके लिए प्रस्तुत हैं असुरों के नाश की एक रोचक कथा। कहा जाता है कि दैत्य गुरु शुक्राचार्य के कहने पर दैत्यों ने घोर तपस्या कर ब्रह्माजी को प्रसन्न किया और वर मांगा कि उन्हें कोई पुरुष, जानवर और उनके शस्त्र न मार सकें। वरदान मिलते ही असुर अत्याचार करने लगे, तब देवताओं की रक्षा के लिए ब्रह्माजी ने वरदान का भेद बताते हुए बताया कि असुरों का नाश अब स्त्री शक्ति ही कर सकती है। ब्रह्माजी के निर्देश पर देवों ने 9 दिनों तक मां पार्वती को प्रसन्न किया और उनसे असुरों के संहार का वचन लिया। असुरों के नाश का पर्व है नवरात्रि। असुरों के संहार के लिए देवी ने रौद्र रूप धारण किया था इसीलिए शारदीय नवरात्रि शक्ति-पर्व के रूप में मनाया जाता है। लगभग इसी तरह चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से 9 दिनों तक देवी के आह्वान पर असुरों के संहार के लिए माता पार्वती ने अपने अंश से 9 रूप उत्पन्न किए। सभी देवताओं ने उन्हें अपने शस्त्र देकर शक्ति संपन्न किया। इसके बाद देवी ने असुरों का अंत किया। [https://www.facebook.com/ZiikiBhaktii/] For Business Queries Email: ([email protected]) LIKE || COMMENT || SHARE || SUBSCRIBE #भक्ति #नवरात्रिस्पेशल

최신 동영상 भक्ति 유튜브 채널
문의하기

네이버 공식카페에 문의 또는 아래 간편 문의를 통해 문의 내용을 보내주세요.

공식카페 문의
(추천)